Inner Banner

कौशल विकास कार्यक्रम

सेनिटरी स्वास्थ्य निरीक्षक पाठ्यक्रम

प्रवेश पत्र डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रस्तावना

Sanitary Inspector

कौशल आधारित प्रशिक्षण पाठ्यक्रम प्रशिक्षण सामग्रियां हैं, जिन्हें मौजूदा व्यावसायिकों के विशिष्ट कौशलों को बढ़ाने याअभ्यर्थियों को कौशल प्रदान करने के लिए विकसित किया गया है।स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के निदेशों के अनुसार, रा.ज.स्वा.प्र. एवं अनु. सं., मुंबई ने सेनिटरी इंस्पेक्टर के लिए एकवर्षीय कौशल आधारित पाठ्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है।

जन स्वास्थ्य विभिन्न राज्यों में नगरपालिका निकायों के लिएएक महत्वपूर्ण चिंता का विषय है। सेनिटरी स्वास्थ्य निरीक्षक विभिन्न आयामों के साथ जन स्वास्थ्य और पर्यावरण का संरक्षण करने में अहम भूमिका निभाते हैं। इस कारण, जन स्वास्थ्य क्षेत्र में बदलावों के चलते सेनिटरी स्वास्थ्य निरीक्षकों की मांग बढ़ रही है। किसी राज्य के नागरिक निकाय विभिन्न जन मुद्दों, जैसे कि सुरक्षित पेयजल, खाद्य सुरक्षा और सामान्य सेनिटरी स्थितियों से निपटने के लिए स्वास्थ्य एवं सेनिटरी इंस्पेक्टरों पर आश्रित रहते हैं।

प्रशिक्षण के परिणाम

यह पाठ्यक्रम छात्रों को विभिन्न संगठनों और सेक्टरों में स्वास्थ्य एवं सेनिटेशन पहलुओं का प्रबंध करने के लिए प्रशिक्षित करता है, जिसके परिणामस्वरूप वे जन स्वास्थ्य और पर्यावरण का संरक्षण करने हेतु सक्षम होते हैं।

शिक्षण के उद्देश्य

  • खादय सुरक्षा का ज्ञान ग्रहण करना और उसे स्थापनाओं, जैसे कि रेस्तराओं में उपयोग करना।
  • यथाआवश्यकता, प्राकृतिक और अभियांत्रिकी वायु संचारण सिद्धांतों का अनुसरण करना।
  • पर्यावरण को कम-से-कम नुकसान पहुँचाए बिना अपशिष्ट (ठोस, पदार्थ और मल) का उपयुक्त तरीके से निपटारा करने में सक्षम होना।
  • विभिन्न सामग्रियों के रोगाणुनाशन और विसंक्रमण की तकनीकों का अनुसरण करना।
  • सेनिटरी मानकों के मूल्यांकन हेतु आवासन बस्तियों का सर्वेक्षण करने में और उपयुक्त उपाय विहित करने में सक्षमता।
  • मेलों और त्योहारों में सेनिटेशन प्रबंधन में सहायता देने में सक्षम होना।
  • संक्रामक रोगों और उनकी रोकथाम को समझना।
  • अस्पताल में विसंक्रमण क्षेत्र, जैसे कि वार्ड, ऑपरेशन थिएटर, प्रसव कक्षों आदि में स्वतंत्र रूप से विसंक्रमण कार्य करना या उसमें सहायता देना।
  • व्यक्तिगत साफ-सफाई पर कार्यक्रमों का आयोजन करना।
  • विभिन्न स्थापनों में स्वच्छता और साफ-सफाई विधियों के मूल्यांकन के लिए दौरों का आयोजन करना और वांछनीय मानकों को कायम करने की सुनिश्चितता करने में सक्षम होना।

प्रवेश के लिए न्यूनतम आवश्यकता

शैक्षिक आवश्यकता - अभ्यर्थी विज्ञान के साथ10 +2 होना चाहिए।

पाठ्यक्रम की अवधि - एक शैक्षिक वर्ष

कार्यक्षेत्र

सेनिटरी स्वास्थ्य निरीक्षक पर पाठ्यक्रम का उद्देश्य नगरपालिका निकायों, जिला परिषदों, रेलवे, फाइव-स्टार होटलों, खादय और ड्रग प्रशासन, विमानपत्तन (एआरपोर्ट) या अन्य संगठनों में समान सेवाओं के लिए स्वास्थ्य एवं सेनिटेशन विभागों में नौकरी प्राप्त करने हेतु आकांक्षीय अभ्यर्थियों के लिए व्यावहारिक प्रशिक्षण कार्यक्रम के साथ तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करना है। स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, पर्यावरण स्थितियाँ आदि सहित स्वास्थ्य एवं स्वच्छता समस्याओं से निपटने हेतु जन स्वास्थ्य और स्वच्छता के प्रबंधन में प्रशिक्षित सेनिटरी स्वास्थ्य प्रबंधन व्यावसायिक कई स्थापनों, जैसे कि अस्पताल, होटलों और उद्योगों, प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरणों, खादय एवं जल सुरक्षा और यात्रा (विमानपत्तन, बंदरगाह और रेलवे) में प्रमाण-आधारित जन स्वास्थ्य कार्यप्रणाली को कार्यान्वित करते हैं |

सेनिटरी स्वास्थ्य प्रबंधन का आशय विभिन्न उद्योगों, यानी स्वास्थ्य परिचर्या, खाद्य एवं जल सुरक्षा, पर्यटन और प्रदूषण नियंत्रण में जन स्वास्थ्य और सेनिटेशन, आदि का प्रबंधन करना है |

पात्रता मानदंड - अभ्यर्थी विज्ञान में10 +2 होना चाहिए, और आयु 18-30 वर्ष।

संबद्धता – भारत सरकार द्वारा मान्यताप्राप्त।

परीक्षा / मूल्यांकन और ग्रेडिंग सिस्टम

  • पाठ्यक्रम दो सेमस्टरों में विभाजित है।
  • दोनों सेमस्टर में तीन पेपर होंगे जिसमें थ्योरी - 60 अंक , प्रैक्टिकल- 20 अंक + इंटरनल - 20 अंक शामिल हैं|
  • कुल 100 अंक+ मौखिक परीक्षा- 60 अंक (प्रति पेपर 20 अंक)।
  • इंटरनल असेसमेंट में -फील्ड दौरों की रिपोर्टें, शिक्षण/टयूटोरियल, कक्षा में उपस्थिति और असाइन्मेंट शामिल हैं।

लिखित प्रश्न पत्र का पैटर्न कवर किए गए विषयों में से वस्तुनिष्ठ + विषयपरक प्रश्न होंगे |

रा.ज.स्वा.प्र. एवं अनु. सं., मुंबई सेनिटरी स्वास्थ्य निरीक्षक के प्रवेश के लिए प्रतिवर्ष अप्रैल माह में आवेदन पत्र आमंत्रित करने हेतु अपनी वेबसाइट और समाचार-पत्रों में प्रवेश अधिसूचना के लिए विज्ञापन देता है |