Inner Banner

कौशल विकास कार्यक्रम

फर्स्ट रिस्पोंडर (प्रथम प्रतिसाद्कर्ता)

प्रवेश पत्र डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें

प्रस्तावना

कौशल आधारित प्रशिक्षण पाठ्यक्रम प्रशिक्षण सामग्रियां हैं जिन्हें वर्तमान व्यावसायिकों के विशिष्ट कौशलों को बढ़ाने तथा औपचारिक योग्यता न रखने वाले उम्मीदवारों को कौशल प्रदान करने हेतु एक प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने के लिए विकसित किया गया है।

कौशल आधारित प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रवेश करने हेतु, यह आवश्यक है कि उम्मीदवार को रोजगार रुपरेखा के लिए निर्धारित प्रवेश मानदंड की पूर्ति करनी होगी। प्रशिक्षणार्थी के प्रशिक्षण और मूल्यांकन से यह सत्यापित होगा कि उम्मीदवार विशिष्ट गतिविधियां चलाने में सक्षम है।

फर्स्ट रिस्पोंडर किसी रोगी की स्थिति का जायजा लेने के लिए पहला व्यक्ति होता है जो इस बात का निर्णय लेता है कि क्या रोगी को आपातकाल सेवा, ईएमएस प्रणाली सहायता दिए जाने तथा न्यूनतम उपकरण के साथ तब तक जीवन रक्षक प्राथमिक सहायता देने की जरूरत है, जब तक ईएमएस प्रोवाइडर नहीं आते हैं।

कार्य की संभावना:

फर्स्ट रिस्पोंडर एक ऐसे वातावरण (उदाहरण के लिए विद्यालय, उद्योग, कंपनियों, समुदाय, घर पर, कार्यस्थल आदि) में सेवा उपलब्ध करता है जिसके लिए विशेष कौशलों और ज्ञान की आवश्यकता होती है। वे अन्य आपतकालीन सेवाओं, जैसे कि ट्रामा सेंटर, आपात विभागों, ऐम्बुलेंस सेवा केंद्रों, मेलों एवं महोत्सवों की आपतकालीन सेवाओं, स्वास्थ्य मेलों आदि के साथ संपर्क-सूत्र के रूप में भी कार्य करते हैं। यह पाठ्यक्रम इन सभी सिद्धांतों से परिचय कराता है। इन विशिष्ट प्रणालियों एवं सेवाओं के प्रति व्यक्तिगत उन्मुखीकरण, जिसके साथ फर्स्ट रिस्पोंडर को संबद्ध किया जाएगा, किसी संगठन-विशेष के भीतर दक्षता का पूर्ण स्तर हासिल करने के लिए जरूरी है।

इस पाठ्यचर्या (curriculum) में ऐसे कौशल प्रदान किए जाते हैं जो किसी व्यक्ति-विशेष को सीमित उपकरणों के साथ प्राथमिक सहायता प्रदान करने के लिए आवश्यक होते हैं। विशेष रूप से, कार्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद, छात्र न्यूनतम प्रवेश स्तर पर निम्नलिखित कार्य निष्पादित करने में सक्षम होगा:

  • प्राथमिक सहायता देने की आवश्यकताओं का आकलन करने हेतु रोगी की स्थिति या क्षति की सीमा की गंभीरता को समझना।
  • श्वसन तंत्र, श्वास लेने और उसके परिसंचरण से संबंधित जीवन घातक क्षतियों के लिए उपयुक्त प्राथमिक सहायता देना।
  • अपने कार्य से संबंधित अपेक्षाओं को सुरक्षित एवं प्रभावकारी रूप से निष्पादित करना।
    • पात्रता मानदंड

      न्यूनतम 8वीं पास और उससे अधिक की योग्यता, पुलिस, उद्योगसे संबंधित कर्मी, सुरक्षा कार्मिक, विद्यालयी शिक्षक, ड्राइवर, आदि। आशा कार्यकर्ताओं/ आंगनवाड़ी/ एमपीडब्ल्यू या संबद्ध व्यवसाय सहित सभी जन स्वास्थ्य व्यावसायिकों के लिए यह अनिवार्य है।

      सीटों की संख्या - 10

      पाठ्यक्रम की अवधि - 4 दिन

      आयु सीमा - 18-30 वर्ष (अ.जा. / अ.ज.जा. के उम्मीदवारों को भारत सरकार के नियमों के अनुसार आरक्षण)

      • फर्स्ट रिस्पोंडर बैच -1
      • फर्स्ट रिस्पोंडर बैच -1
        • फर्स्ट रिस्पोंडर
          फर्स्ट रिस्पोंडर